ram mandir
Spread the love

Ram Mandir Ayodhya construction

श्री राम जन्म भूमि मंदिर का निर्माण कार्य प्रारंभ हो गया है | श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के आधिकारिक ट्विटर हैंडल द्वारा इसकी जानकारी दी गई है | बताया गया है |

कि रुड़की के सेंट्रल बिल्डिंग रिसर्च इंस्टीट्यूट यानी C B I और IIT मद्रास के साथ मिलकर |

निर्माणकर्ता कंपनी एलएंडटी इंजीनियर जन्म भूमि की मिट्टी के परीक्षण के कार्य में लगे हुए हैं |

Ram Mandir जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र

मंदिर ट्रस्ट के अनुसार राम जन्मभूमि मंदिर का निर्माण भारत की प्राचीन निर्माण पद्धति से किया जा रहा है |  ताकि वह सैकड़ों सालों तक न केवल खड़ा रहे  | बल्कि भूकंप और अन्य किसी भी प्रकार की आपदा में भी मंदिर को कोई नुकसान ना हो  |

जानकारी दी गई है | कि मंदिर के निर्माण में लोहे का प्रयोग नहीं किया जाएगा |

मंदिर निर्माण में लगने वाले पत्थरों को जोड़ने के लिए तांबे की पत्तियों का उपयोग किया जाएगा |

निर्माण कार्य हेतु 18 इंच लंबी 3 मीटर गहरी और 30 मीटर चौड़ी पत्तियों की आवश्यकता पड़ेगी |

Ram Mandir की दीवार पर नाम कैसे :-

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र में श्रद्धालुओं से आह्वान किया है  | कि वह तांबे की पत्तियां दान करें | ट्रस्ट के मुताबिक इन तांबे की पत्तियों पर अपने परिवार क्षेत्र मंदिरों का नाम गोदवा सकते हैं |इस प्रकार से यह तांबे की पत्तियां न केवल देश की आत्मा का अभूतपूर्व उदाहरण बनेगी |  बल्कि मंदिर निर्माण में संपूर्ण राष्ट्र के योगदान का प्रमाण भी देंगी |

अयोध्या में राम मंदिर के लिए भूमि पूजन 5 अगस्त को किया गया था |

इस कार्यक्रम में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विशेष रूप से उपस्थित थे .

राम मंदिर की इमारत को बनाने का काम अहमदाबाद चंद्रकांत सोमपुरा को दिया गया था .

चंद्रकांता के पुराने ही प्रभास पाटन में सोमनाथ मंदिर का निर्माण किया था . अब चंद्रकांत सोमपुरा और उनके बेटे अयोध्या में राम मंदिर के निर्माण में लगी है | 

चंद्रमा के मुताबिक इस मंदिर की ऊंचाई 161 फीट होगी |

गणेश और हनुमान के लिए अलग-अलग मंदिर बनाए जाएंगे | 

Ram Mandir कब तक बन जाएगा

इस मंदिर के निर्माण में छह लाख पत्थर लगेगा | 

इसके साथ ही इस इमारत में 366 खंबे होंगे |  सीढ़ियों की चौड़ाई 16 फीट होगी | 

मंदिर निर्माण कार्य में लगभग 36 से 40 महीने का समय लगने का अनुमान है |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *